Mobile Phone या Smartphone कैसे बनता है?

नमस्ते दोस्तों, आज हम बात करेंगे कि Mobile Phone या Smart Phone कैसे बनता है। Or (How Mobile Phone Are Made In Hindi).

दोस्तों आज के समय में आपको Market में तरह-तरह के Smartphone दिख जाते है। पर क्या आपको पता है कि Smartphone कैसे बनाए जाते हैं और किन-किन test से फोन को गुजरना पड़ता है और बहुत कुछ? अगर नहीं पता हो तो हमारे इस Article को पुरा पढ़िए।

Mobile phone / smartphone कैसे बनाए जाते हैं?

Mobile phone / smartphone बनाने के लिए इन तरीकों का उपयोग किया जाता है-

किसी भी Smartphone को बनाने के लिए सबसे पहला काम होता है। PCB Plate तैयार करना। PCB Plate होता है Printed Circuit Board. PCB Plate के अदंर ही Mobile के सारे Components जोड़े जाते हैं।

PCB Plate तैयार करना –

Pcb printing

PCB Plate तैयार करने के लिए एक Machine का प्रयोग किया जाता है। जो PCB Plate पर एक Blueprint बनाती है। कि Mobile का कौन सा Component कहां पर लगेगा।

PCB Plate की Checking करना

जब PCB Plate मैं एक Blueprint बन जाता है। फिर Next Step होता है की उस जगह पर Components फिट करना जैसे कि – Sensor,Indicator आदि को फिट करना।

PCB plate checking

उसके बाद मशीनों द्वारा Checking की जाती की सारे Components सही जगह पर फिट हुए हैं कि नहीं या फिर किसी Expert द्वारा किया जाता है। जो किसी भी PCB Plate की Photo खींचकर उसे Machine में check किया जाता है कि सारे Components सही लगे हैं कि नहीं या फिर कोई Components एक दूसरे के ऊपर ना हो, या फिर कोई Component आपस में जुड़ा ना हो।

PCB Plate के Function को Check करना

जब PCB Plate मै सारे Components लग जाते हैं और उसकी Checking हो जाती है। तो उसका Next Step होता है। PCB Plate के Function को Check करना।

Pcb plate function checking

PCB Plate के Function को Check करने के लिए PCB Plate को Computer के साथ जोड़ा जाता है।
और उसके बाद उसके हर Components को Computer में Check किया जाता है। कि वह सही से काम कर रहा है कि नहीं।

PCB Plate के साथ Display जोड़ना —

PCB Plate को Check करने के बाद उससे अगला काम होता है। PCB Plate को Display के साथ जोड़ा जाता है। और उसके Function को Check किया जाता है। जैसे Bluetooth, Touch, App आदि जिससे पता चलता है। कि फोन की Touch सही से काम कर रही है कि नहीं।

PCB plate  display

इसके बाद इसमें होर Components जोड़े जाते हैं जैसे की Fingerprints, Sensor, Rear Camera, आदि और उसके बाद उनको भी Check किया जाता है।

Battery की Testing करना —

Phone मैं Display लग जाने के बाद अगला काम होता है Battery लगाना।

Battery testing

Smartphone को Battery के साथ Connect किया जाता है। और Check किया जाता है कि Battery सही ढंग से Charge हो रही है या नहीं Or काम कर रही है।

IMEI Number डालना –

जब फोन Assemble हो जाता है तो सबसे आखरी काम होता है फोन में IMEI Number डालना।

IMEI number

Phone मे IMEI Number डालने के लिए एक Laser Machine का इस्तेमाल किया जाता है। जिसकी मदद से हर Mobile मे IMEI Number डाला जाता है।

हर Mobile को Laser से Scan किया जाता है Or उस में IMEI Number डाला जाता है। अब Mobile पुरी तरह से ही Ready हो जाता है। उसके बाद Mobile को Packaging के लिए भेज दिया जाता है।

बस इन्हीं कुछ तरीकों से एक मोबाइल फोन तैयार किया जाता है। अतं में मैं आपसे यह कहना चाहता हूं कि मेरे इस Article को अपने social media platform पर जरूर Share करें। अगर कोई Doubt हो तो Comment करके जरूर बताएं और हमारी Website को Google news,Instagram, Facebook, Twitter, Pinterset, quora आदि चीजों पर Follow कर सकते हैं और हमारी Website को भी जरूर Subscribe करें।

यह आर्टिकल को भी जरूर पढ़ें-
Real or fake website का कैसे पता लगाएं?

Leave a Comment